Boman Irani launches his production house Irani Movietone-JINDARI November 2-Gemplex is now the official Streaming partner of The Bioscope Global Film Festival 2018-Parineeti Chopra gets nostalgic on Comedy Circus-Bollywood Gurukul by Gemplex-Carry On Jatta 2 on June 1-Khabar Phaila Do! Indian Idol 10 Locks its Judges!-First Poster of 'Hope Aur Hum' Launched-Portraits of MC Mary Kom made by Television Actress & Painter Rashmi Pitre were Auctioned-Sunny Deol to return with his upcoming comedy flick, ‘Bhaiaji Superhit’
प्रतिभाशाली और खूबसूरत अभिनेत्री श्वेता जल्द ही सोनी सब के आगामी अपराध
आधारित कॉमेडी शो ‘पाटनर्स-डबल हो गई ट्रबल’ में नजर आयेंगी। इस शो में
वह डॉली नादकर्णी का किरदार निभा रही हैं, जोकि एक कैफे चलाती है। उसे
जासूसी उपन्यास पढ़ना अच्छा लगता है और वह अपना सारा जासूसी ज्ञान आदित्य
और मानव के केस सुलझाने में लगाती है। इस शो में वह मानव की प्रेमिका की
भूमिका में हैं। प्रस्तुत हैं अदाकारा श्वेता गुलाटी से हुई बातचीत के
कुछ अंश।
 काफी लंबे समय बाद आप टेलीविजन पर वापसी कर रही हैं। आपको कैसा लग रहा है?
मुझे समझ नहीं आ रहा कि लोग इसे कमबैक क्यों कह रहे हैं। मैंने टेलीविजन
पर कुछ नहीं करने का फैसला इसलिये किया था, क्योंकि मैं खुद के लिये थोड़ा
समय चाहती थी। जब भी काम की बात आती है, मैं काफी सोच-समझकर फैसला लेने
वालों में से हूं। मुझे जब ये शो ऑफर हुआ तो मैं इस प्रोडक्शन हाउस के
साथ काम करने के लिये बेहद उत्सुक हो गई, क्योंकि मैंने इससे पहले भी
उनके साथ काम किया है। इस शो का हास्य से भरपूर और मजेदार होना भी इसे
चुनने की वजहों में से एक था। दूसरी वजह यह रही कि मैंने सोनी सब के लिये
कई सारे शोज पहले भी किये हैं और उनके साथ काम करना मुझे पसंद है। सोनी
सब एक हंसते-खेलते विशाल परिवार की तरह है।
आप ज्यादातर कॉमेडी शोज में नजर आती हैं,  इस शो के साथ आपका क्या कनेक्शन है?
ऐसा नहीं है कि मैंने कॉमेडी को चुना, बल्कि सच तो यह है कि कॉमेडी ने
मुझे चुना है। मैं तो ड्रामा करना चाहती थी, मैं चाहती थी कि मेरी आंखों
में ढेर सारे आंसू हों। लेकिन ना जाने कहां से ये शो मेरे पास आये और
मुझे कॉमेडी पसंद आने लगी। मैं वह चीजें चुनती हूं, जो मुझे लगता है कि
मेरे लिये सबसे बेहतर होता है।
आप थियेटर भी कर रही हैं और टेलीविजन में भी काम कर रही हैं, एक कलाकार
के नाते आपको क्या ज्यादा सहज लगता है?
 
मुझे नहीं लगता कि एक कलाकार सहजता देखता है, बल्कि उन्हें चुनौतियों की
तलाश रहती है। मैं चुनौती के इंतजार में रहती हूं। इसमें कोई शक नहीं कि
थियेटर, टेलीविजन की तुलना में कहीं ज्यादा चुनौतीपूर्ण है, क्योंकि
थियेटर में आपको खुद को साबित करने का दूसरा मौका नहीं मिलता। आपको खुद
को साबित करने के लिये कोई दूसरा एपिसोड नहीं मिलता। टेलीविजन मेरा प्यार
है क्योंकि मैंने इससे ही अपने कॅरियर की शुरुआत की थी। मैं टीवी के
प्रति अपने प्यार से इनकार नहीं कर सकती। इसलिये, मैं दोनों ही माध्यमों
में सहज रहती हूं।
शो में अपने किरदार के बारे में और कुछ बतायें?
मैंने अपने और इस किरदार डॉली के बीच समानताएं ढूंढना शुरू कर दिया है।
डॉली को थ्रिलर और हॉरर पसंद है, साथ ही उसे गुत्थियों को सुलझाना अच्छा
लगता है। उसे लगता है कि उसके पास इसकी काबिलियत है लेकिन ऐसा नहीं है या
शायद ऐसा है। जैसे-जैसे शो आगे बढ़ेगा तो इस बात से परदा उठेगा कि उसमें
वो जुनून है या नहीं। थियेटर में मेरा जोनर थ्रिलर और हॉरर है, तो ये
डॉली और श्वेता के बीच समानता हुई ना। डॉली के बीच सबसे बड़ा अंतर ये है
कि वह अपने आपे से बाहर हो जाती है। जब वो थ्रिलर वाले मोड में आती है तो
उसी में डूब जाती है। डॉली एक कॉफी शॉप चलाती है लेकिन उसे कॉफी से नफरत
है या उसने कभी कॉफी पी तक नहीं। उसे आश्चर्य होता है कि लोग आखिर कॉफी
पीते क्यों हैं और उसे हमेशा इस पर हैरानी होती है कि लोग कॉफी पीते हैं
और बदले में उसे पैसे दे जाते हैं। वह अपने थ्रिलर अंदाज में, मानव और
आदित्य के केस सुलझाने में मदद करने की कोशिश करती है। डॉली बहुत ही
प्यारी, मस्ती करने वाली आम-सी लड़की है, जो शायद एक जासूस बनना चाहती थी,
लेकिन वो उस कॉफी शॉप की झंझटों में फंस जाती है।
यह शो पाटनर्स और अपराध पर है, तो वास्तविक जिंदगी में आपके अपराधों में
आपका साथी कौन है?
 
जवाब: वास्तविक जिंदगी में मेरे डॉगीज अपराध में मेरे पाटनर्स होते हैं।
मैं उन्हें बहुत प्यार करती हूं और आज मैं काम कर रही हूं, ताकि उन्हें
एक बेहतर जिंदगी दे सकूं। मैं उन्हें बेहद प्यार करती हूं।
इस शो में जॉनी सर जैसे कई बड़े कलाकार, कॉमेडियन्स भी हैं। इसे लेकर आपको
कैसा महसूस हो रहा है? आपको घबराहट महसूस हो रही है या आप बहुत उत्साहित
हैं?
 
जॉनी सर के साथ काम करने पर खुद को सम्मानित महसूस कर रही हूं। हम उनकी
फिल्मों को देखकर बड़े हुए हैं। वह कॉमेडी के जीते-जागते लीजेंड हैं। अभी
मैंने उनके साथ कोई भी एपिसोड शूट नहीं किया है, क्योंकि वो कमिशनर बने
हैं, लेकिन मुझे पूरी उम्मीद है कि आगे मुझे उनके साथ शूटिंग करने का
मौका मिलेगा, इसलिये मैं उस पल को लेकर बेहद उत्साहित हूं। हां, इतने बड़े
कलाकार के साथ काम करने पर, मुझे काफी घबराहट भी महसूस हो रही है।
– जगदीश जोशी

Comments

comments

Comments are closed.